खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम को लेकर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला स्तरीय कमेटी की बैठक संपन्न

0
152

Greater Noida News: जनपद वासियों को शुद्ध खाद्य एवं पेय पदार्थ उपलब्ध कराने एवं खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम के प्रावधानों का प्रभावी क्रियान्वयन अनुश्रवण एवं त्वरित गति से लागू कराने के उद्देश्य से जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट के सभागार में जिला स्तरीय कमेटी की महत्वपूर्ण बैठक संपन्न हुई। बैठक में सहायक आयुक्त खाद्य द्वितीय अर्चना धीरान एवं मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी अक्षय गोयल ने विगत त्यौहारों में जनपद वासियों को शुद्ध खाद्य एवं पेय पदार्थ उपलब्ध कराने के उद्देश्य से की गयी प्रवर्तन कार्यवाही से जिलाधिकारी को विस्तार से अवगत कराया। साथ ही जिलाधिकारी को बताया कि कॉलेज एवं अन्य सरकारी प्रतिष्ठानों को ईट राइट केंपस के रूप में विकसित करने की प्रक्रिया की जा रही है।
जिलाधिकारी ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि उनके द्वारा होटल एवं रेस्टोरेंट में निकलने वाले वेस्ट खाद्य पदार्थों के सदुपयोग के लिए अध्ययन करते हुए अपने कार्य योजना बनाकर प्रस्तुत की जाए। जिलाधिकारी ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि उनके द्वारा फूड फोर्टिफिकेशन, रीयूज्ड कुकिंग ऑयल एवं शुद्ध खाद्य व पेय पदार्थों को लेकर एक एडवाइजरी तैयार करते हुए सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म तथा इलेक्ट्रॉनिक व प्रिंट मीडिया के माध्यम से व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जाना सुनिश्चित किया जाए ताकि अधिक से अधिक जनपद वासियों को शुद्ध खाद्य एवं पेय पदार्थों को लेकर जागरूक बनाया जा सके।
जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिए कि जनपद के सभी स्कूलों तथा सरकारी कार्यालय परिसरों को ईट राइट स्कूल एवं कैंपस में बदलने के लिए भी खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग के अधिकारी गण निरंतर स्तर पर अपनी कार्यवाही सुनिश्चित करें, ताकि सभी स्कूलों तथा सरकारी कार्यालय परिसरों को भी ईट राइट केंपस घोषित किया जा सके। डीएम ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए निर्देश दिए कि खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग के अधिकारियों के द्वारा मिलेट्स पर एक बड़ा कार्यक्रम आयोजित कराने, स्ट्रीट वेंडर्स एवं मसालों पर जागरूकता अभियान चलाने, स्कूलों में कलरफुल डाइट को शामिल करते हुए सेफ टीफिन अभियान चलाने पर विशेष बल दिया जाए तथा होटल व रेस्टोरेंट में वेज व नॉनवेज सैक्शन अलग अलग ही संचालित हो इस पर अभियान चलाकर मॉनेटिरिंग की जायें।
जिलाधिकारी ने खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग के अधिकारियों को यह भी निर्देश दिये कि जनपद वासियों को शुद्ध खाद्य एवं पेय पदार्थ उपलब्ध कराने के उद्देश्य से व्यापक स्तर पर अभियान चलाकर सैंपल संग्रहित करने की कार्यवाही सुनिश्चित की जायें, ताकि जनपद वासियों को शुद्ध खाद्य एवं पेय पदार्थ उपलब्ध कराया जा सके। साथ ही निर्देश दिये कि संग्रहित किये गये सैंपल में प्रयोगशाला से मिलावट सिद्ध होती है तो सम्बन्धित प्रतिष्ठान के विरूद्ध नियामानुसार कार्यवाही करते हुये जुर्माना लगाये जाने की कार्यवाही अमल में लायी जायें।
इस अवसर अपर जिलाधिकारी प्रशासन डॉ नितिन मदान, पुलिस विभाग, स्वास्थ्य विभाग, खाद्य सुरक्षा अधिकारीगण व अन्य सम्बन्धित विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।