विश्व गौरैया दिवस पर गौरैया के महत्व को लेकर किया जागरूक

0
69

Noida: विश्व गौरैया दिवस के अवसर पर आदर्श ज्ञान वाटिका विद्यालय के बच्चों ने कला के माध्यम से गौरैया के महत्व को जागरूक किया। इस अवसर पर, विद्यार्थियों ने गौरैया संरक्षण के बारे में सीखा, उनके वास्तविक जीवन के बारे में जाना और उनके संरक्षण के लिए जागरूकता फैलाई। वाईएसएस फाउंडेशन द्वारा आयोजित इस आयोजन में, विद्यार्थियों ने अलग-अलग शैलियों में कला का उपयोग करके अपने विचारों और भावनाओं को व्यक्त किया। उन्होंने चित्रकला, नृत्य, संगीत और नाटक जैसे कलात्मक शैलियों का उपयोग किया।
विद्यार्थियों ने गौरैया के रोमांचकारी जीवन और उनके वास्तविकता के बारे में सीखा। विश्व गौरैया दिवस के अवसर पर विद्यालय के बच्चों ने कला के माध्यम से गौरैया के महत्व को समझाने और जागरूक करने के लिए कई कार्यक्रम आयोजित किए गए।
इन कार्यक्रमों में, बच्चों को गौरैया के बारे में जानकारी दी गई और उन्हें इसके महत्व के बारे में बताया गया। विद्यालय में, बच्चों को गौरैया से जुड़ी चित्रकला और उत्पादों का प्रदर्शन कराया गया था। बच्चों को गौरैया से संबंधित नाटक और संगीत के अभ्यास कराए गए। इसके अलावा, विद्यालय में बच्चों को गौरैया से जुड़ी कहानियों का पाठ कराया गया।
आदर्श ज्ञान वाटिका की प्रधानाचार्य ने बताया कि इन सभी कार्यक्रमों के माध्यम से, बच्चों को गौरैया के महत्व को समझाने के साथ-साथ उन्हें इसके संरक्षण के बारे में जागरूक करने का भी मौका मिला। इसके अलावा, ये कार्यक्रम बच्चों की आलोचनात्मक और रचनात्मक क्षमताओं को भी विकसित करते हैं। आज के कार्यक्रम में सहयोग करने वाले सदस्य रेखा चौहान, नुतन चौहान, विनिता सिंन्हा, वंदना सिसोदिया, गरिमा बहाल, पारुल वैध, चंचल शर्मा, दयाल सिंह चौहान, दुर्गा प्रसाद दुबे, पंकज मिश्रा, रामवीर प्रजापति आदि लोग उपस्थित रहे।