भारतीय किसान यूनियन मंच ने नोएडा प्राधिकरण के गेट पर किया धरना-प्रदर्शन

0
161

NOIDA NEWS: भारतीय किसान यूनियन मंच के नेतृत्व में नोएडा प्राधिकरण के अंतर्गत आने वाले 81 गांव के किसानों ने शुक्रवार को हरौला बारात घर में इकट्ठा होकर पैदल मार्च करते हुए नोएडा प्राधिकरण के मुख्य गेट पर पहुंचकर धरना प्रदर्शन किया। पुलिस प्रशासन ने किसानों को नोएडा प्राधिकरण के मुख्य गेट तक पहुंचने से रोकने के लिए भरसक प्रयास किया लेकिन वो किसानों को नहीं रोक पाए। नोएडा प्राधिकरण के मुख्य द्वार पर पहुंचकर किसानों ने मांग रखी की नोएडा प्राधिकरण के सीईओ लोकेश एम किसानों के बीच आकर बताएं कि किसानों के 10 प्रतिशत मुआवजे को बोर्ड बैठक में क्यों नहीं रखा गया और क्यों किसानों के कार्य नोएडा प्राधिकरण में नहीं हो रहे हैं। लेकिन पुलिस प्रशासन एवं नोएडा प्राधिकरण के ओएसडी अविनाश त्रिपाठी ने किसानों को मनाने की कोशिश करते रहे कि वह नोएडा प्राधिकरण के बोर्ड रूम में चलकर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ से बात कर लें लेकिन किसान अपनी मांग पर अड़े रहे कि नोएडा प्राधिकरण के सीईओ अपने आप को किसान का बेटा बताते हैं तो फिर किसानों से संवाद करने से पीछे क्यों हट रहे हैं। वह नीचे आ कर किसानों से संवाद करें, घंटो रसाकशी होने के बाद नोएडा प्राधिकरण के सीईओ लोकेश एम नोएडा प्राधिकरण के मुख्य द्वार पर आए और किसानों से बात की। भारतीय किसान यूनियन मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुधीर चौहान ने कहा कि अब नोएडा के किसान जागरूक हो गए हैं वह नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों की कार्य शैली भली भांति से जानते हैं अब किसान नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों के झूठ वादे और अमल में ना लाये जाने वाले लिखित समझौतों में नहीं आने वाले हैं। अब 81 गांव के किसान अपनी समस्याओं का स्थाई समाधान चाहता है और किसानों को वर्ष 1997 से 64.7 अतिरिक्त प्रतिकार और 10 प्रतिशत के भूखंड चाहिए। भारतीय किसान यूनियन मंच की युवा विंग के राष्ट्रीय अध्यक्ष आशीष चौहान ने धरने को संबोधित करते हुए कहा कि अगर नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों ने इस अक्टूबर महीने में बोर्ड मीटिंग करके किसानों के 10 प्रतिशत मुआवजे के साथ सभी मुद्दों को पास नहीं किया तो नोएडा प्राधिकरण पर अनिश्चितकालीन विशाल धरना प्रदर्शन किया जाएगा।
आज के धरने को सुरेंद्र प्रधान, डीपी चौहान, विमल त्यागी, सुरेश त्यागी, दानिश सैफी,गौतम लोहिया, सोनू चपराना, जेके भाई, अशोक चौहान, आशीष चौहान, मास्टर जितेन्द्र चौहान ने संबोधित किया। नोएडा प्राधिकरण के सीईओ लोकेश एम ने कहा कि अक्टूबर महीने में किसानों की समस्याओं एवं 10 प्रतिशत मुआवजे को पास करने के लिए विशेष बोर्ड बैठक की जाएगी और सोमवार मंगल तक आबादी के निस्तारण के लिए सभी गांव का रोस्टर बनाकर जारी कर दिया जाएगा। नोएडा प्राधिकरण के सीईओ लोकेश एम ने कहा कि भूलेख और नोएडा प्राधिकरण के अन्य विभागों में कर्मचारियों की कमी होने के कारण भी किसानों का कार्य समय से नहीं हो पा रहा है।
इस अवसर पर नोएडा प्राधिकरण के एसीईओ संजय खत्री, ओएसडी अविनाश त्रिपाठी, डीसीपी नोएडा जोन हरीश चंद्र, एसीपी रजनीश वर्मा, अरविंद कुमार, किसानों की ओर से सूरज प्रधान, चरण सिंह प्रधान, सुरेंद्र प्रधान, प्रमोद त्यागी, चमन प्रधान, सुरेश त्यागी, ब्रह्म सिंह चौहान, लोकेश चौहान, तरुण भाटी, गजेंद्र बसोया, राजवीर चौहान, नरेश चौहान, ऊषा प्रधान, विभा चौहान, दुर्गा शर्मा, सपना चौहान, कविता, नेहा, पवित्रा, पारूल आदि हजारों महिला पुरुष धरना प्रदर्शन में शामिल हुए।