यूपी के प्रमुख सचिव ने यीडा के विकास कार्यों एवं औद्योगिक विकास कार्यों की समीक्षा

0
139

Greater Noida News: यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव (अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास) अनिल कुमार सागर ने यमुना प्राधिकरण कार्यालय में प्राधिकरण की गतिविधियों से संबंधित प्रस्तुतिकरण का अवलोकन किया। प्राधिकरण द्वारा क्षेत्र में किए जा रहे विकास कार्यों एवं औद्योगिक विकास से संबंधित क्रियाकलापों पर बैठक में उपस्थित वरिष्ठ अधिकारियों से विचार विमर्श किया गया। प्रमुख सचिव द्वारा निर्देशित किया गया कि आवंटियों को लीज डीड व नक़्शा पास करवाने के लिए प्रोत्साहित किया जाये, जिससे इस क्षेत्र में अधिक से अधिक निर्माण इकाइयाँ प्रोडक्शन चालू कर सकें।
ग्रेटर नोएडा में आगामी 21 से 25 सितंबर में होने वाली यूपी इंटरनेशनल ट्रेड शो 2023 की तैयारियों की भी समीक्षा की गई। प्राधिकरण सभाकक्ष में आयोजित इस बैठक में प्राधिकरण के सभी विभागों की विभागाध्यक्ष जीएम प्लानिंग श्रीमती लीनू सहगल, जीएम फाइनेंस बिशंबर बाबू द्वारा प्रतिभाग किया गया। प्रस्तुतिकरण अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी कपिल कुमार सिंह द्वारा दिया गया। एयरपोर्ट व फ़िल्म सिटी प्रोजेक्ट्स के संबंध में विस्तृत जानकारी विशेष कार्याधिकारी शैलेंद्र भाटिया द्वारा दी गई। इस अवसर पर द टॉय एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया के अध्यक्ष अजय अग्रवाल, उपाध्यक्ष नरेश गौतम, कन्वेनर नरेश कुमार गुप्ता, को कन्वेनर तरुण चेतवानी सहित अन्य उद्योगपतियों द्वारा प्रतिभाग किया गया तथा प्राधिकरण द्वारा टॉय पार्क के निर्माण में दिए जा रहे सहयोग के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया गया। साथ ही साथ अजय अग्रवाल द्वारा अवगत कराया गया कि आगामी 1 वर्ष में कई फैक्ट्रियों का निर्माण कार्य पूर्ण कर उत्पादन चालू करा दिया जाएगा। प्राधिकरण द्वारा अलाटमेंट में पारदर्शी व्यवस्था अपनाई गई है। प्राधिकरण से अनुरोध हैं की जिन लोगों को चेकलिस्ट नहीं मिली है उन्हें भी चेकलिस्ट जारी करने की कार्यवाही शीघ्र की जाये। प्राधिकरण में नक़्से भी पास करने के लिए जमा करा दिये जाएँगे। उन्होंने कहा कि हमने इंपोर्ट को घटाकर एक्सपोर्ट को बढ़ाया गया है। आजकी तारीख में एक्सपोर्ट 60 प्रतिशत के क़रीब भी है।इस अवसर पर प्राधिकरण के अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी कपिल सिंह, विशेष कार्याधिकारी शैलेंद्र भाटिया, शैलेन्द्र कुमार सिंह तथा प्राधिकरण के अन्य अधिकारीगण एवं कर्मचारीगण उपस्थित रहे।