गाड़ी बुकिंग के नाम पर ठगी करने वाले अंन्तर्राज्यीय गैंग के पांच लोग गिरफ्तार

0
73

Noida: थाना सेक्टर 113 और साइबर हेल्पलाइन पुलिस ने गाड़ी बुकिंग के नाम पर ठगी करने वाले अंन्तर्राज्यीय गैंग के पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इस गैंग ने किराये पर कार देने के लिए एक फिशिंग वेबसाइट बनाई थी। जिसका प्रचार गूगल ऐड के जरिए से किया जाता था। पुलिस ने इनके पास से 1 लैपटॉपख् 5 फोन, एक टैब, 3 अदद डेबिट कार्ड और 43 हजार रुपए बरामद किया है।
पुलिस ने पांचों आरोपियों को आदित्य अर्बन कासा सोसायटी सेक्टर.78 नोएडा से गिरफ्तार किया है। इनकी पहचान समीर खान, सुनील, आकाश, आकाश और अरबाज के रूप में हुई है। पकड़े गए आरोपी वेबसाइट पर बुकिंग का पेमेंट करने वाले ग्राहकों का डेबिट और क्रेडिट कार्ड नंबर, सीवीवी नंबर, कार्ड की एक्सपायरी डेट लेकर वॉट्सऐप के माध्यम से एपीके फाइल भेजकर एसएमएस फौरवर्डिग की स्क्रिप्ट भेजकर उनके खातों से जमा राशि निकालकर ठगी कर लेते है।
ऐसे करते थे ठगी: आरोपी फिशिंग वेबसाइट महाराज बनवाकर गूगल ऐड के माध्यम से प्रचार किया जाता था। जिसमें रेंट पर कार लेने के इच्छुक व्यक्ति बुकिंग के लिए अपना आवेदन रजिस्ट्रेशन करते थे। जिससे उनका मोबाइल नंबरए नाम व बुकिंग डेस्टिनेशन आदि की डिटेल वेबसाइट पर सुरक्षित हो जाती थी। इसके बाद ये लोग वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करने वाले ग्राहकों को बुकिंग अमाउंट के लिये इसी वेबसाइट पर 101 रुपए की ट्रांजैक्शन करने के लिये कहते थे। फिशिंग वेबसाइट पर इस ट्रांजैक्शन के बहाने ग्राहकों के डेबिट कार्ड की जानकारी आ जाती थी। 101 रुपए की ट्रांजैक्शन फेल हो जाने पर ये ग्राहकों को फिर काल करते थे और वॉट्सऐप के माध्यम से एपीके फाइल भेजकर महालक्ष्मी की ऐप डाउनलोड यह बोलकर कराते थे कि आपको बुकिंग में छूट मिल जायेगी। इस एपीके फाइल में एसण्एमण्एस फौरवर्डिग की स्क्रिप्ट होती है। जिससे इन व्यक्तियों के मोबाइल पर आने वाले सभी एसएमएस इनको मिल जाते थे।