मुख्य कार्यपालक अधिकारी के आदेश पर आपत्ति दर्ज कराने अथॉरिटी पहुंचे सैकड़ों वेंडर

0
105

Noida: सैकड़ों पथ विक्रेता सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा के नेतृत्व में नोएडा प्राधिकरण कार्यालय पर पहुंचे और बिना लाइसेंस प्राप्त वेंडर्स को अवैध बताकर उन्हें हटाने के लिए चलाए जा रहे अभियान को बंद कराकर वेंडर्स की लम्बित समस्याओं/ मांगों का समाधान करने व उन्हें व्यवस्थित करने हेतु अभियान शुरू करवाने के लिए ज्ञापन दिया। ज्ञापन नोएडा प्राधिकरण के ओएसडी इंदु प्रकाश ने लिया। पथ विक्रेता कर्मकार यूनियन के महामंत्री व सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा ने कहा कि वेंडर्स का सत्यापन करना और सत्यापन के बाद वेंडिंग जोन बनाकर उनका ड्रा करके वेंडिंग जोन में जगह देना प्राधिकरण की प्राथमिक जिम्मेदारी थी जिसे अधिकारियों द्वारा सही से पूरा नहीं किया गया और अब उन्हें रोजगार से वंचित करना वेंडर्स के साथ अन्याय है। तथा पथ विक्रेता अधिनियम का भी खुला उल्लंघन है। उन्होंने कहा कि यदि प्राधिकरण ने वेंडर्स को रोजगार करने से रोकने/ हटाने का अभियान बंद नहीं किया तो वेंडर्स की फिर से आंदोलन शुरू करने की मजबूरी बन जाएगी। उक्त मसले पर पुन: बुधवार 16 मार्च को यूनियन का प्रतिनिधिमंडल प्राधिकरण की सीईओ ऋतु महेश्वरी से मुलाकात करेगा और उसके बाद ही आगे की रणनीति तय की जाएगी।
इस दौरान मुख्य कार्यपालक अधिकारी के नाम एक प्रार्थना पत्र भी दिया जिसमें बिना लाईसेंस प्राप्त वेन्डर को अवैध बताकर उन्हें हटाने के लिए चलाये जा रहे अभियान को बंद कराकर वेन्डर्स की लम्बित समस्याओं व मांगों का समाधान करने व उन्हें व्यवस्थित करने का अभियान शुरू करवाने का निवेदन किया। इस प्रार्थना पत्र की एक-एक प्रतिलिपि मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश योगी आदित्यनाथ, जिलाधिकारी गौतमबुद्ध नगर, पुलिस आयुक्त गौतमबुद्ध नगर और निरीक्षक महोदय, अभिसूचना अधिकारी गौ0बु0 नगर के नाम दिया।