महर्षि महेश योगी की 106वीं जयंती मनाई गई

0
76

Noida: महर्षि वेद विज्ञान विद्या पीठ के सौजन्य से भावतीय ध्यान के प्रावत्तक और वेद विजान के प्रकाशन महर्षि महेश योगी की 106वी जयंती पर आयोजित समारोह में कहा गया कि वैदिक ज्ञान की प्रकाश और ऋषि महर्षि द्वारा प्रति पादित योगविद्या के बल बूते भारत निकट भविष्य में जगत गुरु बनेगा। महर्षि वेद विजान विद्यापीठ के प्रभारी शिशिर श्रीवास्तव ने बताया कि वैदिक गुरु परंपरा के पूजन और एकादश वैदिक पंडितो के वैदिक स्वास्तिक वाचन के समारोह में महर्षि यूनिवर्सिटी के डी0 जी 0 ओ पी शर्मा ने कहा कि महर्षि ने दुनिया के सामने भावातीय ध्यान सहित समस्त वेद विधाओं को प्रकिशित करने के साथ सबसे बड़ी बात यही सिखाई अंधेरा प्रकाश आने से दूर होता हैं न की अंधेरे के दिए से कानून बनाने से आज जितने भी ध्यान सहित शिथक है वह वैदिक विश्व प्रकाशक है उन सबको महर्षि द्वारा प्रदत्त ज्ञान को फैलाना है! ऐसा करके ही सामूहिक चेतना की सतगुरु बनाया जा सकेगा। जो सुख शांति और समृद्धि का आधार है! मीडिया कोडिनेटर ए के लाल ने बताया कि महोत्सव नमक चमक के विशिष्ट रुद्राभिषेक के साथ प्रारंभ हुआ जिसे 21 वैदिक पंडितो ने संपन किया। इन अनुष्ठान के बाद महर्षि ब्याज सहित सम्पूर्ण गुरु परंपरा का प्रजोत पूजन किया गया। महर्षि विद्या मंदिर स्कूल सेक्टर 36 की प्रधानाचार्य डा वीना बहुगुणा ने स्कूल के बच्चो के साथ महर्षि महेश योगी की 106वीं जयंती मनाई। वही पर महर्षि विद्या मंदिर स्कूल सलारपुर महर्षि नगर में प्रधानाचार्य वीरेंद्र सेंगर ने स्कूल के बच्चो के साथ महर्षि महेश योगी की106वीं जयंती मनाई इस महर्षि नगर समारोह मे विनीत श्रीवास्तव, राघवेंद्र यादव, संतोष श्रीवास्तव, रामेद्र सचान, एस पी गर्ग, सुनील श्रीवास्तव, लल्लन पाठक व श्री कांत ओझा आदि शामिल रहे।