दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती हुई फिल्म सिटी है नोएडा फिल्म सिटी: संदीप मारवाह

0
97

Noida: नोएडा फिल्म सिटी के संस्थापक और मारवाह स्टूडियो के अध्यक्ष संदीप मारवाह ने नोएडा फिल्म सिटी और मारवाह स्टूडियो के स्थापना दिवस पर कहा, लोग सपने में भी नहीं सोच सकते थे कि 35 साल बाद एक दिन नोएडा फिल्म सिटी दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती हुई फिल्म सिटी होगी।” आज हमारे पास 100 एकड़ -75 एकड़ आउटडोर लोकेशन, 16 स्टूडियो के साथ 25 एकड़ इनडोर और इन स्टूडियो में से 350 चैनल 162 देशों में 24&7 प्रसारित किए जा रहे हैं। यहां लगभग 17000 प्रोफेशनल 8-8 घंटे की 3 शिफ्टों में काम कर रहे हैं ओर फिल्म सिटी के कारण लगभग 150,000 लोग अपनी रोज़ी रोटी कमा रहे हैं। मारवाह स्टूडियोज की बात करें तो उत्तर भारत का पहला प्रोफेशनल फिल्म स्टूडियो, जो अब राष्ट्र निर्माण में अपने योगदान के 32 साल पूरे कर रहा है, हम 50 से अधिक चैनलों के लिए लगभग 4500 टेलीविजन कार्यक्रम बना चुके है , हम भारत में 125 से अधिक फीचर फिल्मों से जुड़े हैं। यहां 8 भाषाओं में लगभग 5000 प्रशिक्षण फिल्में बनाई जा चुकी है और हमारी प्रोडक्शन कंपनी ने लगभग 3300 लघु फिल्में बनाई हैं और कई विश्व रिकॉर्ड बनाए हैं। मारवाह स्टूडियोज ने मीडिया और मनोरंजन उद्योग को सर्वश्रेष्ठ फिल्म स्कूलों में से एक दिया है। हमारे यहाँ 145 देशों के 20,000 छात्रों को शिक्षित और प्रशिक्षित किया है और इसे दुनिया के पहले दस सर्वश्रेष्ठ फिल्म स्कूलों के रूप में दर्जा मिला हुआ है है। हमें खुशी है कि इतने वर्षों में हमने 7500 आयोजनों को छुआ है और 156 देशों से फिल्म और सांस्कृतिक पर्यटन के तहत 30 लाख लोगों को आकर्षित कर सके हैं। मारवाह स्टूडियो समाज के प्रति अपने उत्तरदायित्व को कभी नहीं भूला और फिल्म, टेलीविजन, मीडिया, कला, संस्कृति, पर्यटन, शिक्षा, पर्यावरण, कौशल विकास, खेल को बढ़ावा देने के लिए बड़ी संख्या में संगठनों से जुड़ा रहा है और विकलांगता, स्वास्थ्य, एकता, व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शांति कैसे स्थापित की जाये जैसे विषयों से जुड़ा है। आज मारवाह स्टूडियो न केवल पूरे विश्व में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहा है बल्कि कला और संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए सांस्कृतिक राजदूत के रूप में नामित किया गया है हमें खुशी है कि इतने वर्षों में हमने 7500 आयोजन कर चुके है साथ ही 156 देशों से फिल्म और सांस्कृतिक पर्यटन के तहत 30 लाख मारवाह स्टूडियो के प्रांगण आ चुके है।