Noida News: पहली बार रामलीला में सुनाई गई रावण जन्म की लीला

0
58

Noida: सेक्टर 46 के रामलीला ग्राउंड में चल रही श्रीराम लखन धार्मिक लीला में तीसरे दिन रावण जन्म की कथा विश्वामित्र द्वारा सुनाना एवं अहिल्या उधार एवं सीता जन्म की कथा का आयोजन किया।
जिसमें मुख्य अतिथि भाजपा के नोएडा के जिलाध्यक्ष मनोज गुप्ता ने कहा कि इस प्रकार की रामलीला से जहां बच्चों को संस्कारों की जानकारी मिलती है।
वही पूरा परिवार एक साथ बैठकर रामलीला देख सकता है। पूरे परिवार को एक साथ रामलीला देखने से ज्ञान ही मिलेगा, जबकि आजकल युवा वर्ग रामलीला देखने की बजाए मॉल आदि में पिक्चर देखना पसंद करते हैं। पिक्चर की बजाय रामलीला देखने से ज्ञान की प्राप्ति होती है।
भाजपा के नोएडा जिला अध्यक्ष मनोज कुमार गुप्ता ने कहा कि वे लीला का आयोजन करा रहे समिति के अध्यक्ष विपिन अग्रवाल और उनकी टीम को बधाई देते हैं। क्योंकि इस प्रकार के कार्य कराना अपने आप में ही सराहनीय हैं।
तीसरे दिन की लीला में पंडित कृष्णा स्वामी ने तीसरे दिन की रामलीला में जहां विश्वामित्र द्वारा रावण की जन्म की कथा विस्तार से सुनाई और अहिल्या उधार एवं सीता जन्म की कथा सुना कर लोगों को सोचने के लिए मजबूर कर दिया ।
वही पुष्प वाटिका में जनकपुरी देखने पहुंचे राम-लक्ष्मण शहर को देखकर भावुक हो उठे ,उनका कहना था कि इतना सुंदर शहर है।तभी उनकी जनक बाजार में सीता से पहला मिलन हुआ।
इस दौरान महाराजा जनक सम्मान एवं जनक बाजार में भ्रमण के साथ तीसरे दिन की रामलीला का समापन किया गया।
इस अवसर पर अतिथि नरेश कुचछल सुरेश गुप्ता मूलचंद गुप्ता संस्था के अध्यक्ष विपिन अग्रवाल ने आए हुए सभी अतिथियों का स्वागत किया।
इस अवसर पर प्रमुख रूप से महेश अग्रवाल, भानु सिंगल, गौरव सिंगल, पवन राज, तरुण राज, बलराज गोयल कुलदीप कटिहार अनीस अहमद , संजय त्यागी, अमित पालरीवाल, अतुल मिश्रा, राकेश सिंगला, नरेंद्र चोपड़ा, फेलिक्स अस्पताल के सीएमडी डॉ डीके गप्ता, वीरेंद्र मेहता प्रवीण बंसल गौरव चाचरा, प्रवीण बंसल, राजीव मित्तल, महावीर जैन, मूलचंद गुप्ता, राजेंद्र भाटी, सोहन लाल गुप्ता, आत्माराम गुप्ता, केके भड़ाना ,अशोक चौहान, धर्मेंद्र गुप्ता, डॉ वीके गुप्ता ,सुधीर मित्तल, श्रीकांत बंसल, नमन अग्रवाल, नवनीत गुप्ता, लघु अग्रवाल, अमित पालीवाल, पवन शर्मा, प्रदीप अग्रवाल, संदीप अग्रवाल, सुधीर गोयल, विशाल जैन, योगेंद्र गर्ग, राजीव अग्रवाल, गौरव सिंघल, राजीव शर्मा, नेत्रपाल अग्रवाल, सुशील सिंगल, बाबूराम बंसल, जगदीश भारद्वाज, ललित गुप्ता एवं गौरव शर्मा आदि प्रमुख रूप से मौजूद थे।