अधिकारी गण शासन के महत्वपूर्ण पोर्टलों की प्रतिदिन करें मॉनिटरिंग: डीएम

0
48

GREATER NOIDA NEWS: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी की मंशा के अनुरूप जनता की समस्याओं का समयबद्ध, पारदर्शी व संतुष्टिपरक रूप से निस्तारण कराने एवं तहसीलों में लंबित चल रहे धारा 24, 116, पैमाइश, विरासत, जमीनी, प्रमाण पत्रों के प्रकरणों का निर्धारित समय अवधि में गुणवत्ता के साथ निस्तारण कराने के उद्देश्य से डीएम मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट सभागार में अपर जिलाधिकारी, उप जिलाधिकारी तथा न्यायिक उप जिला अधिकारियों के साथ महत्वपूर्ण समीक्षा बैठक संपन्न हुई। जिलाधिकारी ने बैठक की समीक्षा करते हुए एसडीएम एवं न्यायिक एसडीएम को निर्देश दिए कि उनके न्यायालय में धारा 24, 116, पैमाइश, विरासत, वसीयत, कृषि भूमि को गैर कृषि भूमि में परिवर्तन करने के लिए जो भी प्रकरण लंबित चल रहे हैं, उनका नियत समय में निस्तारण करना सुनिश्चित किया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि राजस्व मामलों में शिथिलता बरतने वाले अधिकारियों व कर्मचारी की जवाबदेही तय करते हुए नियमानुसार कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। जिलाधिकारी ने ई डिस्टिक पोर्टल पर उपलब्ध सेवाओं जैसे जाति प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र और हैसियत प्रमाण पत्रों के लंबित मामलों को लेकर उप जिलाधिकारी एवं न्यायिक उप जिलाधिकारियों को निर्देश दिए की वह प्रतिदिन पोर्टल पर लंबित प्रकरणों की मॉनिटरिंग करते हुए प्रमाण पत्रों को तय समय में जारी करते हुए आवेदकों को उपलब्ध कराए जाएं। जिलाधिकारी ने बैठक की समीक्षा करते हुए बैठक में उपस्थित उप जिला अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि उनके द्वारा तहसील के प्रकरणों को केवल न्यायिक उप जिलाधिकारियों को हस्तांतरित न किए जाएं, उप जिलाधिकारी एवं न्यायिक उप जिलाधिकारी पर समान रूप से प्रकरण रहे, ताकि लंबित चल रहे प्रकरणों को जल्द से जल्द निस्तारण किया जा सके। जिलाधिकारी ने बैठक में यह भी निर्देश दिए की अधिकारी गण प्रतिदिन समय से अपनी-अपनी तहसीलों में उपस्थित होकर शासन के महत्वपूर्ण पोर्टलों की मॉनिटरिंग करें। उन्होंने कहा कि तहसील में आने वाले फरियादियों के साथ मधुर व्यवहार करते हुए उनकी समस्याओं को बहुत ही गंभीरता के साथ अनुश्रवण करें एवं उत्तर प्रदेश शासन के द्वारा चलाए जा रहे जनकल्याणकारी कार्यक्रमों एवं योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्तियों तक पहुंचाने की कार्रवाई सुनिश्चित की जाए। जिलाधिकारी ने बैठक में उपस्थित उप जिला अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि प्रतिदिन अपने-अपने क्षेत्र में भ्रमण कर अवैध प्लोटिंग करने वाले भूमाफियाओं के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाए और जो भी अवैध निर्माण होता पाया जाए, उसका ध्वस्तीकरण कराया जाए। साथ जिलाधिकारी ने आगामी त्यौहारों को दृष्टिगत रखते हुए बैठक में उपस्थित सभी अधिकारियों को निर्देश दिए की सभी के द्वारा अपने-अपने कार्यालय परिसरों की साफ सफाई व्यवस्था पर विशेष फोकस रखा जाए एवं कार्यालय में सभी मूलभूत सुविधाओं को सुदृढ़ रखी जाए। इस महत्वपूर्ण बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन डॉक्टर नितिन मदान, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व अतुल कुमार, नगर मजिस्ट्रेट धर्मेंद्र सिंह, उप जिलाधिकारी दादरी आलोक गुप्ता, सदर अंकित कुमार, जेवर अभय सिंह तथा सभी तहसीलों से न्यायिक उप जिलाधिकारीगण व अन्य अधिकारी गण उपस्थित रहे।