पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे पर संदिग्ध परिस्थितियों में मिला महिला का शव

0
91

Greater Noida: ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे पर संदिग्ध परिस्थितियों में मिले महिला के शव के मामले में पुलिस दुर्घटना से मौत होना बता रही है। वहीं कई सवाल ऐसे हैं जिनका पुलिस के पास कोई ठोस जवाब नहीं है।
पुलिस के मुताबिक गश्त कर रही पीआरवी को सोमवार सुबह 7 बजे के आसपास पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे पर महिला का शव पड़ा हुआ मिला। अगर यह मामला हिट एंड रन का है तो ऐसे में सवाल उठता है कि इतनी सुबह अकेली महिला एक्सप्रेसवे पर क्या कर रही थी।
महिला का सिर बुरी तरह से कुचला हुआ है जिस कारण आशंका व्यक्त की जा रही है कि हत्या के बाद पहचान मिटाने के उद्देश्य से महिला के सिर को कुचल दिया गया है। महिला के सिर के अलावा अन्य कहीं स्थान पर कोई गहरी चोट नहीं है। महिला के शव के पास से मोबाइल व अन्य कोई ऐसा दस्तावेज बरामद नहीं हुआ है जिससे उसकी शिनाख्त हो सके।
घटनास्थल से एक किलोमीटर दूर टोल प्लाजा, पुलिस खंगाल रही सीसीटीवी फुटेज: पुलिस को एक्सप्रेसवे पर जहां शव मिला है। वहां से एक किमी दूर टोल प्लाजा है। सुराग की तलाश में पुलिस सुबह 7 बजे के पहले के सीसीटीवी फुटेज की जांच कर रही है। साथ ही गाजियाबाद से पलवल की तरफ जाने वाली सभी गाडिय़ों की भी जांच कर रही है। एक आशंका यह भी है कि किसी ने युवती की हत्या की हो, फिर हादसा दिखाने के लिए शव को एक्सप्रेस-वे पर फेंक दिया हो। क्योंकि, जिस सुनसान एरिया में शव मिला है। वहां अकेली महिला के जाने की बात पुलिस को भी समझ नहीं आ रही है।
गाजियाबाद से पलवल की तरफ जाती एक्सप्रेसवे लेन पर पड़ा था शव: थाना प्रभारी उमेश बहादुर सिंह ने बताया कि लाश मुंह के बल एक्सप्रेसवे लेन के बीचों-बीच पड़ी थी। सिर का काफी हिस्सा कुचला हुआ था। शरीर पर कई जगह रगड़ के निशान हैं। एक्सप्रेस-वे की जिस लेन पर शव मिला है। वह गाजियाबाद से पलवल की तरफ जाती है। पुलिस इस एंगल पर भी जांच कर रही है क्या युवती गाजियाबाद की रहने वाली थी। क्या हत्या के बाद शव को एक्सप्रेस-वे पर फेंका गया है।
शव की शिनाख्त होने से खुल सकता है मामला, ये हादसा है या हत्या: पुलिस अभी तक इस घटना को सडक़ हादसा मान रही है लेकिन हत्या से भी इनकार नहीं कर रही है। पुलिस इसके लिए पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। डीसीपी अभिषेक वर्मा का कहना है कि अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी। सबसे पहले पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट और शव की शिनाख्त हो जाए। शव की शिनाख्त होते ही काफी हद तक मामला सुलझ जाएगा। उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।