वाईएसएस फाउंडेशन ने यमुना में चलाया सफाई अभियान

0
231

नोएडा। यमुना नदी हमारे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र की एकमात्र नदी है और इसकी सफाई के लिए सभी नागरिकों को सामने आना होगा। इसी प्रकरण में दिल्ली एनसीआर की विभिन्न सामाजिक संस्थाओं ने वाईएसएस फाउंडेशन के साथ मिलकर रविवार को सुबह 7 बजे से 12बजे तक यमुना की सफाई का विशेष अभियान चलाने का निश्चय किया है। जो कि संस्था पिछले काफी समय से हर रविवार को यमुना सफाई कार्यक्रम आयोजित करती आ रही है। प्रत्येक रविवार को सैकड़ो की संख्या में स्वयंसेवी समूह द्वारा यमुना को निर्मल करने की दिशा में सार्थक प्रयास करने की कोशिश करते है। इस अभियान का नेतृत्व वाईएसएस फाउंडेशन के संस्थापक एवं सदस्य सचिन गुप्ता एवं उनकी टीम ने किया। यमुना अभियान के संचालक दुर्गा प्रसाद दुबे द्वारा सभी कार्यकर्ताओं को ऐसे अभियानों के लिए विशेष धन्यवाद दिया और कहा कि ऐसे लोग ही हमारे देश की नींव है जो स्वच्छता जागरूकता, जल एवं पर्यावरण संरक्षण में विशेष योगदान करते हैं। संयुक्त तत्वाधान में वाईएसएस फाउंडेशन के संयुक्त प्रयास से आज यमुना घाट कालिंदी कुंज की सफाई का सामूहिक आगाज हुआ। जिसमें आज सभी सदस्यों ने वहां फैले हुए मलबे, मूर्तियां, प्लास्टिक, बोतलें, पूजा का सामान, जलकुंभी, मेडिकल वेस्ट आदि चीजों को हटाकर उस जगह को स्वच्छ बनाने का एक छोटा सा प्रयास किया। पंकज मिश्रा ने बताया कि लोग पहले प्लास्टिक तथा आसपास फैले हुए कचरे को घाट पर से हटा दे तो भूमि में उर्वरक क्षमता बनी रहेगी तथा साथ ही वह पानी के साथ आगे ना बहेगा और गंदगी के ढेर को कम करने में भी मदद मिलेगी। वाईएसएस फाउंडेशन से दुर्गा प्रसाद दुबे ने समझाया कि पर्यावरण सुरक्षा सब की जिम्मेवारी है जब तक हर घर से कोई व्यक्ति नहीं जुड़ेगा, तब तक पर्यावरण का बचाव करना बहुत मुश्किल है।
आज के कार्यक्रम में सहयोग करने 4 दिल्ली एनसीसी बीएन ओखला पीएच (111)बटालियन भी शामिल थी जाट रेजिमेंट सूबेदार उमेद सिंह और इसमें सहयोगी संस्था परिवर्तन द चेंजेस एवं वाईएसएस फ़ाउंडेशन के सभी सदस्यगण रामवीर प्रजापति, दिनेश कुमार, प्रशांत यादव, तेजस गुप्ता पंकज मिश्रा, आकाश प्रजापति, सहिल, अजय, सिकरवार, निखिल, सौरभ, कमलेश, अर्जुन, संदीप एवं महिला शक्ति अंकिता खंडेलवाल, प्रीति बजाज़, रेणुका बजाज, मोहिनी, सुमित, पूजा राजपूत, पूजा वर्मा, नंदिनी, मानसी भारद्वाज, मानसी दास शिवांगी दिवाकर लक्ष्मी यादव सपना मीनू वर्मा अंशिका मानसी मौर्य लक्ष्मी प्रजापति आदि लोगों का मुख्य रुप से सहयोग रहा।