औषधि निरीक्षक ने दो मेडिकल स्टोर का किया निरीक्षण

0
106

ग्रेटर नोएडा। आयुक्त खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन उत्तर प्रदेश एवं जिलाधिकारी सुहास एल0वाई0 के निर्देशों के क्रम में मेडिकल स्टोर्स पर औषधियों की मानकों के अनुरूप पर्याप्त उपलब्धता एवं गुणवत्ता बनाए रखने के उद्देश्य से जनपद का खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग के अधिकारीगण निरंतर स्तर पर कार्यवाही सुनिश्चित कर रहे हैं। इसी क्रम में औषधि निरीक्षक गौतम बुद्ध नगर वैभव बब्बर द्वारा आज जहांगीरपुर, जेवर में स्थित दो मेडिकल स्टोर का निरीक्षण कर, कुल तीन औषधि नमूने जांच के लिए संगृहीत किए गये। उन्होंने बताया कि बदलते मौसम के चलते बुखार, खंसी एवं अन्य बीमारी में प्रयुक्त औषधि की गुणवत्ता एवं संबंधित क्रय विक्रय अभिलेखों की जांच के क्रम मे भण्डारी मेडिकल स्टोर से कुल दो (एंटीबीओटीक टेबलेट) औषधि का नमूना संग्रहित किया गया। मौके पर इन औषधि के बिल के साथ अन्य चार दवाओं के क्रय विक्रय बिल प्रस्तुत नहीं करने पर औषधि के क्रय विक्रय बिलों को अगले तीन दिनों के अंदर सत्यापन के लिए प्रस्तुत नहीं करने तक अंकित औषधि का विक्रय नहीं किये जाने के निर्देश दिये गये। इसी प्रकार वशिष्ठ मेडिकल स्टोर से भी एक दर्द निवारक औषधि का नमूना संगृहीत किया गया। उन्होंने बताया कि मौके से 5 औषधि के क्रय विक्रय बिल प्रस्तुत नहीं करने पर सख्त निर्देश दिए गए हैं कि निरीक्षण आख्या में अंकित सभी औषधि के क्रय बिल प्रस्तुत करा दें। मेडिकल स्टोर की जांच की खबर लगते ही जहांगीरपुर के बाकी सभी मेडिकल स्टोर शटर बंद कर भाग गये। औषधि निरीक्षक वैभव बब्बर ने जानकारी देते हुए अवगत कराया की क्रय विक्रय अभिलेखों की जांच यह सुनिश्चित करने के लिए की जा रही है की किसी भी मेडिकल द्वारा किसी बिना या अवैध लाइसेंस धारी को औषधि का क्रय विक्रय तो नहीं किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि नमूनों को जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा जा रहा है। जिनकी रिपोर्ट आने पर एवं विवेचना करने पर आग्रिम कार्यवाही औषधि एवं प्रसाधन अधिनियम 1940 के अन्तर्गत नियमनुसार की जाएगी। औषधि निरीक्षक द्वारा बताया गया कि जिलाधिकारी के निर्देश पर जनपद में सभी प्रकार की दवाइयां मानकों एवं गुणवत्ता के साथ सभी मेडिकल स्टोर्स पर बिक्री सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से आगे भी इसी प्रकार अभियान संचालित करते हुए मेडिकल स्टोर्स की जांच की जाएगी।