एटीएम मशीन में फेवीक्विक लगाकर करते थे धोखाधड़ी, चार गिरफ्तार

0
114

Noida: थाना एक्सप्रेस वे पुलिस व जोनल सर्विलांस टीम ने जॉइंट आपरेशन चलाकर एटीएम मशीन में फेवीक्विक लगाकर ग्राहकों के एटीएम निकालकर धोखाधड़ी करने वाले चार बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से अलग-अलग बैंक के फर्जी आईडी कार्ड, एटीम कार्ड, चोरी की गयी 5 हजार रुपए नकद, फेवीक्विक व फर्जी हैल्प लाइन नंबर की पर्चियां बरामद की गई है।
डीसीपी हरीश चंदर ने बताया कि 6 जून को गांव वाजिदपुर में पीएनबी एटीएम में गड़बड़ी करके इन चारों ने पैसे निकाले थे। जिसके बाद पीडि़त ने पुलिस से मामले की शिकायत की थी। पुलिस ने पंचशील अंडर पास से चारों को गिरफ्तार किया गया। इनकी पहचान प्रशांत, आदित्य, पवन और गौरव यादव हुई है। डीसीपी ने बताया कि ये लोग पहले एटीएम बूथ में जाकर मशीन पर एक फर्जी हेल्पलाइन लिखकर चिपका देते है। हैल्प लाइन पर जो नंबर लिखते थे वो इन चारों में किसी एक का होता था। इसके बाद कार्ड रीडर वाले स्थान पर फेवीक्वक लगा देते थे। जब कोई ग्राहक पैसा निकालने के लिए एटीएम में जाता है। एटीएम मशीन में फेवीक्विक लगे होने के कारण कार्ड मशीन में ही चिपक जाता था। इस गिरोह का दूसरा साथी अपने गले में बैंक का फर्जी आईडी कार्ड डालकर वहां आ जाता था। वो ग्राहक से दोबारा से पिन डालकर प्रयास करने को कहता था। इस दौरान वो चुपके से उसका पिन नोट कर लेता था। फिर उस ग्राहक को फर्जी हैल्प लाइन नंबर पर कॉल करने को कहता था। जिस पर इसी गिरोह का तीसरा साथी उस ग्राहक को 3-4 घंटे के बाद कार्ड ले जाने को कहते थे। फिर बदमाश ग्राहक का एटीएम कार्ड मशीन से निकालकर अन्य एटीएम से जाकर पिन डालकर पैसे निकाल लेते थे। इन चारों ने मिलकर ऐसी कई घटनाएं की है। इस गिरोह की तलाश काफी दिनों से थी। डीसीपी ने बताया कि ये लोग सिर्फ उन एटीएम को टारगेट करते थे। जिसमे न तो अलार्म होता था और न ही गार्ड होते थे।