Greater Noida News: मुख्यमंत्री ने डाटा सेंटर का किया लोकार्पण

0
82

Greater Noida: उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ(Chief Minister Yogi Adityanath) सोमवार को एक्स्पो मार्ट ग्रेटर नोएडा में इण्डिया वाटर वीक-2022(India Water Week-2022) का शुभारम्भ कार्यक्रम राष्ट्रपति महोदया के करकमलों के द्वारा किये जाने के सम्बंध में जनपद में 2 दिवसीय सघन भ्रमण पर पहुंचे। मुख्यमंत्री ने अपने सघन भ्रमण के प्रथम चरण में नॉलेज पार्क 5 ग्रेटर नोएडा में बनाये गये देश के सबसे बड़े डाटा सेंटर(Data Center) का लोकार्पण किया। इस अवसर पर उन्होंने आयोजित कार्यक्रम में अपने उद्धगार व्यक्त करते हुये कहा कि ग्रेटर नोएडा में देश का सबसे बड़ा डाटा सेंटर बना रहे हीरानंदानी ग्रुप (एनआईडीपी डेवलपर्स) ने योट्टा डाटा सेंटर पार्क के दो और टॉवरों का निर्माण जनवरी 2022 में शुरू करने का एलान किया, इसका पहला टॉवर जुलाई 2022 में पूरा हो चुका है। पहले टॉवर की क्षमता 30 मेगावाट डाटा स्टोर करने की है। यह उत्तर प्रदेश में बन रहा पहला डाटा सेंटर भी है। देश की प्रमुख रियल एस्टेट कंपनी हीरानंदानी ग्रुप ने बीते साल पहली बार मुंबई से बाहर निकलते हुए उत्तर प्रदेश में डाटा सेंटर स्थापित करने का निर्णय लिया। इनवेस्ट यूपी के अंतर्गत कंपनी ने डाटा सेंटर के लिए ग्रेटर नोएडा को चुना। उन्होंने कहा कि इस डाटा सेंटर में आगामी पांच वर्षों में कुल छह टॉवरों का निर्माण होना है। इस योट्टा डाटा सेंटर पार्क को बनाने में कुल करीब 7000 करोड़ रुपये के निवेश का आकलन है और लगभग 1000 युवाओं को प्रत्यक्ष रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। अगर अप्रत्यक्ष रोजगार को भी जोड़ लें, तो यह संख्या और भी बढ़ जाएगी। यह देश का सबसे बड़ा डाटा सेंटर है। यह उपलब्धि ग्रेटर नोएडा के नाम आ गई है। इसके बाद से डाटा सेंटर क्षेत्र की कई और कंपनियां भी ग्रेटर नोएडा में निवेश की इच्छा जता रही हैं। मुख्यमंत्री ने कंपनी के इस फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि डाटा सेंटर क्षेत्र में ग्रेटर नोएडा और भी बड़ा मुकाम हासिल करेगा और प्रदेश में सोशल मीडिया (फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, यू-ट्यूब आदि) प्लेटफॉर्म के ही करोड़ो उपभोक्ता हैं, उनका डाटा सुरक्षित रखने में मदद मिलेगी। इसके अलावा बैंकिंग, व्यापार, स्वास्थ्य सेवा, यात्रा, पर्यटन व आधार आदि का डाटा भी इस डाटा सेंटर में सुरक्षित रहेगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत के प्रधानमंत्री की डिजिटल इण्डिया की संकल्पना के आधार पर निवेशकों का उत्तर प्रदेश में कार्य करने एवं उत्तर प्रदेश में निवेश करने का सपना साकार हुआ है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश का जनपद गौतमबुद्धनगर आई0टी0 उद्योग का प्रमुख केन्द्र है, यहॉ पर देश-विदेश से आई0टी0 के क्षेत्र में निवेश करने के लिए निवेशक बढ़चढ़ कर रूचि ले रहे हैं। उत्तर प्रदेश राज्य दुनिया एवं भारत का सबसे अधिक मेनपॉवर देने वाले राज्यों में से एक है। प्रधानमंत्री की 5 ट्रिलियन इकोनॉमी की संकल्पना का सपना साकार करने में उत्तर प्रदेश का महत्वपूर्ण योगदान होगा। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश अपार संभावनाओं वाला राज्य है, जोकि उत्तर प्रदेश देश के प्रमुख केन्द्र के रूप में निवेशकों की पहली पंसद बन चुका है और उत्तर प्रदेश में निवेशकों की सुरक्षा के लिए उत्तर प्रदेश सरकार प्रतिबद्ध है। मुख्यमंत्री ने हीरानंदानी ग्रुप को आश्वस्त करते हुये कहा कि योट्टा डाटा सेंटर को संचालित करने में राज्य की उत्तर प्रदेश सरकार का भरपूर सहयोग प्राप्त होगा। इस लोकार्पण के अवसर पर उत्तर प्रदेश सरकार एवं हीरानंदानी ग्रुप के मध्य उत्तर प्रदेश में निवेश के लिए 39 हजार करोड़ रूपये का एम0ओ0यू0 साइन हुआ है।
अपने सम्बोधन मे उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना के समय उत्तर प्रदेश सरकार के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश की 25 करोड़ जनसंख्या को महामारी से बचाने तथा केन्द्र व उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वकांक्षी योजनाओं का लाभ पात्र लाभार्थियों तक पहुंचाने में तकनीकी का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। देश का सबसे बड़ा डाटा सेंटर उत्तर प्रदेश के जनपद गौतमबुद्धनगर में बनाने के लिए मुख्यमंत्री ने भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आभार प्रकट करते हुये उनका अभिनन्दन किया और कहा कि आगे भी उत्तर प्रदेश प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में इस तरह की उपलब्धियों क लिए तत्पर रहकर कार्य करने के लिए अग्रसर रहेगा।
इस लोकार्पण के अवसर पर केन्द्रीय राज्य मंत्री सूचना एवं प्रौद्योगिकी राजीव चन्द्र शेखर, उत्तर प्रदेश के केबिनेट मंत्री आई0टी0 एवं इलैक्ट्रानिक्स भूपेन्द्र उपाध्याय, उत्तर प्रदेश के औद्योगिक मंत्री नन्दगोपाल नंदी गुप्ता, उत्तर प्रदेश के राज्यमंत्री आई0टी0 एवं इलैक्ट्रानिक्स अर्जित पाल, सांसद डॉ महेश शर्मा, राज्यसभा सांसद सुरेन्द्र नागर, विधान परिषद के सदस्य नरेन्द्र भाटी, चंद शर्मा, विधायक जेवर धीरेन्द्र सिंह, विधायक दादरी तेजपाल नागर, उत्तर प्रदेश शासन के मुख्य सचिव दुर्गा प्रसाद मिश्र, उत्तर प्रदेश के औद्योगिक एवं अवस्थापना आयुक्त अरविन्द कुमार, पुलिस आयुक्त आलोक सिंह, मण्डलायुक्त मेरठ मण्डल मेरठ शेल्वा कुमारी जे0, प्रभारी जिलाधिकारी एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी नोएडा व ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण ऋतु माहेश्वरी व अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित रहें।