पुलिस ने उड़ीसा से तस्करी को आया 500 किलो गांजा पकड़ा, महिला सहित सात गिरफ्तार

0
55

Noida: थाना बीटा 2 पुलिस और स्वाट टीम ने रविवार रात तस्करी कर लाई जा रही गांजे की 500 किलों की बड़ी खेप को पकड़ा है। गांजे की यह खेप उड़ीसा से तस्करी करके लाई जा रही थी। पुलिस ने एक महिला सहित 7 तस्करों को भी गिरफ्तार किया है। पुलिस द्वारा पकड़े गए इस गांजे की बाजार में कीमत लगभग 1.5 करोड़ रुपया है। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से कैंटर, पिकअप और स्कूटी सहित 3 वाहन और 6 मोबाइल भी जब्त किए हैं।
ग्रेटर नोएडा जोन के डीसीपी साद मियां खां ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली कि बीते रविवार देर रात क्षेत्र में बड़ी मात्रा में उड़ीसा से गांजे की खेप तस्करी कर लाई जा रही है। सूचना के आधार पर सेक्टर बीटा-2 कोतवाली पुलिस और स्वाट टीम ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए सेक्टर सिग्मा -1 में प्राधिकरण की खाली पडी जमीन पर गांजा तस्कर वाहनों को डिलीवरी के दौरान ही सात तस्करों को दबोच लिया। आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि सभी दिल्ली एनसीआर क्षेत्र नोएडा व गाजियाबाद में गांजा की तस्करी करते हैं। यह गिरोह उड़ीसा से अवैध तरीके से कैंटर में गुप्त केबिन बनवाकर गांजा की तस्करी करता है। यहां लाकर अलग-अलग क्षेत्रों में लोगों के माध्यम से गांजा की बिक्री करते हैं। आज भी इसी कैंटर से उड़ीसा से गांजा लेकर आये थे। पुलिस के अनुसार यह गिरोह गांजा को यहां लाकर नोएडा, गाजियाबाद, दिल्ली एनसीआर क्षेत्र के कॉलेजों व विश्वविद्यालयों में सप्लाई करने के लिए जा रहे थे। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर नोएडा के बहलोलपुर और बिसरख में इनके गोदाम पर भी छापेमारी की कार्रवाई की। वहां से भी पुलिस को कुछ नशीला पदार्थ बरामद हुआ है।
आरोपी फिरोजा उर्फ मामी अपने बेटे के साथ मिलकर चला रही थी गिरोह: पुलिस द्वारा पकड़े गए आरोपियों की पहचान मौहम्मद आजाद इंद्राचौक दिल्ली, फैय्याज निवासी सेक्टर 17 जेजे कॉलोनी नोएडा, ऋषिराम निवासी बहलोलपुर सेक्टर-63 नोएडा, साजन शाह और राजकुमार शाह निवासी सीतामढ़ी बिहार और योगेश यादव निवासी अलीगढ़ के रूप में हुई। पुलिस ने फिरोजा उर्फ मामी नामक एक महिला को भी गिरफ्तार किया है। महिला गिरफ्तार आरोपी फैयाज की मां है। मां और बेटे इस गिरोह को चला रहे थे। फिलहाल पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।