नकली फूड सप्लीमेंट बेचने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार

0
130

Noida: सावधान कही आप बॉडी बनाने के चक्कर में नकली फूड सप्लीमेंट का सेवन तो नहीं कर रहे। नोएडा के थाना सेक्टर-63 पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से भारी मात्रा में फर्जी फूड सप्लिमेंट, रैपर, खाली डिब्बे, पैकिंग मशीन व प्रिंटिंग मशीन बरामद की है। बरामद सप्लीमेंट की कीमत करीब एक करोड़ रुपए बताई जा रही है।
एडीसीपी सेंट्रल नोएडा डॉ राजीव दीक्षित ने बताया कि सेक्टर-63 पुलिस ने सी-140, सेक्टर-63 पर छापा मारकर अमित कुमार साव पुत्र ढालचन्द, अजय सिंह पुत्र माधव सिंह व रोशन पुत्र दिनेश को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से फर्जी फूड सप्लिमेंट जिसमें कुछ तैयार माल व कुछ अधबना माल, रैपर, खाली डिब्बे, पैकिंग मशीन व प्रिंटिंग मशीन आदि बरामद किए हैं। पकड़े गए आरोपी नकली फूड सप्लिमेंट को बहुत कम खर्चे में तैयार कर और असली फूड सप्लिमेंट के रूप में कंपनी का रैपर लगाकर ऊंची कीमतों में बेचते थे। पकड़े गए तीनों आरोपियों ने लगभग दो साल तक गुरुग्राम में सप्लिमेंट बनाने का काम सीखा था। वहां से सीखने के बाद ये अपना खुल का सप्लिमेंट बनाने का काम शुरू करना चाहते थे। इसके बाद तीनों यश नाम एक व्यक्ति के संपर्क में आए, जिसने इनकी मदद की और चारों ने खुद का काम करना शुरू कर दिया। इससे ये लोग काफी मोटा मुनाफा कमाते थे। ये बहुत कम खर्चे में बिना मापदंड व लैब परीक्षण के फर्जी फूड सप्लिमेंट तैयार कर और असली फूड सप्लिमेंट के रूप में कंपनी का रैपर लगाकर बेचते थे। इसके सैंपल लेकर फूड सेफ्टी डिपार्टमेंट को भेजा जाएगा।
मार्केट में 4,000 से 5,000 रुपए तक का थे बेचते उन्होंने बताया कि एक किलोग्राम का फूड सप्लिमेंट कार्टल-वे कंपनी का डिब्बा तैयार कर ये लोग उसे मार्केट में 4,000 से 5,000 रुपए तक का बेचते थे। इन तैयार फर्जी फूड सप्लिमेंट को दिल्ली, हरियाणा के अलग-अलग शहरों व नोएडा आदि क्षेत्रों में बेचा जाता था।